Wednesday

अंजानी डगर पार्ट--20 - Xstoryhindi

आगे.................... कमू की इस हरकत से सेलिना के शरीर मे अजीब सी तरंगे उठने लगी. उसको अपनी चूत मे घुसी हुई कमू की जीब की अठखेलियो से बेहद मज़ा आ रहा था. कमू उसकी चिड़िया को भी छेड़ने लगा था. सेलिना तो बस एकदम मस्त हो चुकी थी. उसने जैसे तैसे अपनी सिसकारियो को रोक रखा था. सोनी थोड़ा पीछे हुआ तो उसकी चूतादो की टक्कर से कमू भी पीछे हो गया. सोनी- कस के पकड़ लेना. अब इसका इनऑयरेशन करने जा रहा हू. बशु- तू जल्दी कर बे...हमारी भी बारी आने दे..... सेलिना- छोड़ दो मुझे प्लीज़...जितने पैसे कहोगे उतने दे दूँगी.... सोनी- पैसा देकर तो ये चूत खरीदी है. अब ये हमारी है. अब हम चाहे बेचे या खुद इस्तेमाल करे...हमारी मर्ज़ी....अब तू हिल मत.... इसको सेलिना ने इशारा समझा और उनकी पकड़ से छूटने के लिए ज़ोर-आज़माइश करने लगी. पर कमू और बशु की पकड़ से आज़ाद नही ही सकी. सोनी थोड़ा पीछे हुआ अपनी पॅंट और अंडरवेर नीचे उतार दिया. सेलिना उसका लंड नही देख पाई नही तो शायद बेहोश ही हो जाती. सोनी का लंड किसी आदमी का नही था. शायद किसी हाथी का काट कर सर्जरी करवा ली थी. कमू के चाटने से सेलिना की चूत एक दम गीली हो गयी थी. सोनी ने सेलिना की गीली हो चुकी चूत पर अपना पत्थर जैसा लंड रख कर ज़ोर का धक्का मार दिया. लंड सनसानता हुआ सेलिना के शरीर मे प्रवेश कर गया. सेलिना की चूत की कमजोर दीवारे भी उसको रोक नही पाई और बाजू हटती चली गयी. सेलिना की इज़्ज़त का एक मात्रा दरवाजा (झिल्ली) भी सोनी हथियार के सामने नही टिक पाई कमजोर सी सेलिना के मूह घुटि हुई सी आवाज़ निकली. सेलिना की चूत कुँवारी थी. सोनी नेलंड बाहर निकाला तो खून की धार भी बाहर आ गयी. सेलिना को भयंकर दर्द होने लगा था. पर वो खुद को उनकी पकड़ से बचाने के लिए पूरा ज़ोर लगाने की आक्टिंग करती रही. बीच बीच मे छोड़ने और बचाने की गुहार भी लगा देती. सोनी- यार ज़रा इसका मूह बंद कर ना. बहुत मच मच कर रही है साली. कोई आ जाएगा...वैसे भी हम बीच पर है. ये सुन कर सेलिना की छाती पर बैठे हुए बशु ने पॅंट की चैन खोल कर लंड बाहर निकाल लिया और सेलिना के मूह मे डालने लगा. पर सेलिना ने बदबू के मारे मूह ही नही खोला. बशु ने उसकी नाक बंद कर दी. सांस लेने के लिए जैसे ही सेलिना ने मूह खोला तो बशु का लंड दनदनाता हुआ सेलिना के मूह मे घुसा दिया और उसके मूह और गले को चोदने लगा. खून देख कर सोनी की आँखे चमक उठी. छोरी कुँवारी है - सोनी बड़बड़ा उठा. उसने पूरे ज़ोर से एक और धक्का मारा...और उसका मूसल सेलिना की अओखल के जड़ मे जाकर टकराया. आबीयेयेयीयायगग्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ग्गरर्र्र्र्र्र्र्रर्र............. अबकी बार सेलिना खुद को रोक नही पाई. शुक्रा था कि आडिशन रूम साउंड प्रूफ था और बशु का लंड उसके मूह मे था. नही तो पूरी बिल्डिंग वाहा इककट्ठि हो जाती. दर्द के मारे सेलिना आक्टिंग-वकटिंग सब भूल गयी थी. उधर सोनी भी थम सा गया था. थोड़ी देर बाद जब सेलिना शांत होती दिखी तो सोनी ने धीरे से धक्के मरने शुरू कर दिए. धीरे-धीरे धक्के तेज होते गये. सेलिना को भी अज्जीब सा दर्दिला मज़ा आ रहा था. पर सोनी ज़्यादा देर टिक नही पाया और सेलिना के अंदर ही झाड़ गया. उसके बाद कमू ने और बशु ने सेलिना को बारी बारी से 2-2 बार जम कर छोड़ा. सेलिना की चूत से वीर्य बह रहा था...बेचारी सुंबत चेर पर निढाल पड़ी रही. आज वो पहली बार चुद गई थी और वो भी आधे घंटे मे 5 बार...उसको बेहोशी सी छाने लगी थी. सोनी- फॅंटॅस्टिक शॉट....क्लॅप क्लॅप क्लॅप. तीनो ताली बजाने लगे. बशु- बेबी...तुमने बहुत बढ़िया शॉट दिया...चलो अब फ्रेश हो लो. मनी सिर के पास चलना है. सेलिना जैसे-तैसे उठी तो वीर्य बह कर उसकी टाँगो पर आ गया. बशु ने उसका गाउन उसे पहनाया और रूम से बाहर ले गया. वो लड़खड़ाती हुई चली गयी. सेलिना और बशु के जाने के बाद विक्की की हालत खराब हो चुकी थी. विक्की- सर वॉशरूम किधर है ? सोनी- रूम से बाहर निकल कर राइट चले जाना. वही मिल जाएगा. विक्की- सर मैं अभी आया. विक्की चला गया. बेचारे का यूरिन बस निकलने ही वाला था. तभी बशु भी सेलिना को उसके रूम मे छोड़ कर वापस आ गया था. बशु- सोनी सर आज तो आपने जन्नत की सैर करवा दी. कमू- हा भाई...लड़किया तो बहुत चोदि है पर ऐसे रेप करने का मौका तो आज पहली बार ही मिला है. सोनी- शाडे नाल रहोगे तो ऐश करोगे...जिंदगी के सारे मज़े कॅश करोगे. कमू- सर आपका तो बहुत हेरोएनो ने बिस्तर गर्म किया होगा.... सोनी- हा..तो क्या.... कमू- सर एक बार हमारा भी चान्स लगवा दो ना. सोनी- साले आज क्या किया था. इतना बढ़िया चान्स तो दिया है तुझे. साले 2-2 बार रगड़ दिया तुम दोनो ने बेचारी को. मैं तो डर रहा था कि मर तो नही जाएगी. कमू- सर ये तो अभी हीरोयिन बनेगी ना.....किसी टॉप की हीरोयिन के साथ सेक्स का तो मज़ा ही अलग आएगा. सोनी- साले जितनी भी ये हेरोएने है ना...मेरे नीचे से होकर ही निकली है. पर क्या मज़ाल.. किसी को पता भी चल जाए. मेरे एक इशारे पर रात बिताने आ जाती है...जिसको भी मैं चाहू. बशु- सर एक बार हमे भी मौका दिलवा दो ना. सोनी- सालो 1-1 करोड़ रुपये मे एक रात मिलती है. पर सब टॉप सीक्रेट रहता है. बशु- पर सर आज की बात तो लीक हो जाएगी ना. सोनी- मादरचोद तू लीक करेगा. तेरी लाश किसी गटर मे भी नही मिलेगी. बशु- सोनी सर आप तो नाराज़ जल्दी होते हो. मैं इस नये लड़के की बात कर रहा हू. जिसने पूरे सीन का वीडियो भी शूट कर लिया है. अगर इसने बाहर मूह खोल दिया तो. बशु की बात सुन कर सोनी सर गंभीर हो गये थे. फिर थोड़ी देर बाद बोले- अरे कोई बात नही. तुम डरो मत. तुम बस देखते जाओ कि मैं कैसे इस लड़के को फाँसता हू. साँप भी मर जाएगा और लाठी भी नही टूटेगी. बशु और कमू को समझ नही आया था कि ये कैसे होगा पर उनको सोनी सर की काबिलियत पर पूरा विश्वास था. आख़िर मनी सर का पूरा फिल्म एंपाइयर वो ही तो संभालते थे. तीनो मनी सर के कमरे मे उनके साथ थे. तभी इंटरकम की बेल बजी. मनी- यस रोज़ी- सर एक और लड़की काफ़ी देर से आपका वेट कर रही है. मानी- कौन है ? बात कराओ. लड़की- सर मैं कॅट्लिना हू. कल मेरा आडिशन हुआ था. आज आपने बुलाया था ना. मनी- हा हा. रोज़ी को फोन देना. रोज़ी- यस सर. मनी- इसको उपर मेरे कॅबिन मे भेज दो. रोज़ी- ओके सर. मनी- कल जिस लड़की का आडिशन किया था वो भी आ गयी है. और इस सेलिना का भी आप लोगो ने आडिशन ले लिया है. आपकी क्या राई है. किस फिल्म मे किस लड़की को लॉंच करना सही रहेगा. बशु- सर वो अमित जी से भी बात हो गयी थी. अपनी अगली फिल्म बूम साइन करने के लिए वो तैय्यार है. और उन्होने गुलशन सर के लिए भी रेकमेंड किया है. मनी- टैय्यार तो होना ही था. दुबई मे सेक्सी लड़कियो के साथ तो हर कोई फिल्म करने को तैय्यार होगा. कमू- सर बूम के लिए इन दोनो मे से कौन सी लड़की ठीक रहेगी. मेरे हिसाब से तो सेलिना ही ज़्यादा हॉट है और सेक्स सीन देने मे भी उसको कोई तकलीफ़ नही है. बशु- पर यार वो कॅट्लिना भी कम नही थी. सोनी (कुछ सोच कर)- ऐसा करते है कि दोनो का कॉंपिटेशन करवा देते है. जो ज़्यादा ग्लॅमरस होगी उसको ही लेड रोल मे ले लेंगे. मनी- सोनी जी ठीक कह रहे है. अब आप ही दोनो मे से सेलेक्ट कर लेना. मैं तो दुबई जा रहा हू. मेरी फ्लाइट का टाइम भी हो गया है. सोनी- आप फिकर ना करे सर. मैं देख लूँगा. तभी कॅट्लिना भी मनी सर के कॅबिन मे पहुच गयी. कॅट्लिना- सर मैं कॅट्लिना... मानी- आओ आओ कॅट्लिना. इनसे मिल लो. ये है सोनी जी. ये ही तुम्हे बताएँगे कि आगे क्या करना है. मैं इंडिया से बाहर जा रहा हू. कॅट्लिना- जी सर. ये कह कर मनी सर चले गये. उनके जाने के बाद सोनी कॅबिन से निकल कर फिर से आडिशन रूम मे चला गया. सोनी आडिशन रूम मे पहुचा तो विक्की वाहा पहले से ही मजूद था. सोनी- वो तुम्हारी आडिशन वाली रील मुझे दे दो. हम मनी सर के साथ बाद मे देख लेंगे. विक्की- जी ये ले लीजिए. सोनी- अरे यार तुम्हारी थोड़ी हेल्प चाहिए. विक्की- सर बताइए ना. सोनी- अरे वो सेलिना है ना जिसका अभी आडिशन हुआ था ना. विक्की- जी सर...क्या हुआ उसको ? सोनी- हुआ कुछ नही...पर एक और लड़की आ गयी है. अब दोनो मे से चूज़ करना है कि लेड रोल किसको देना है. विक्की- जी इसमे मैं क्या कर सकता हू. सोनी- हम चाहते है कि दोनो का एक साथ आडिशन ले लो. ताकि कंपॅरिज़न हो सके. विक्की- जी सोनी- सीन मे दोनो एक जवान लड़के को रिझाने की कोशिश करेंगी. और जो ज़्यादा मादक अदाए दिखाएगी....ज़्यादा सेक्स अपील करेगी...उसको ही लेड रोल देना है. विक्की- जी सोनी- दिक्कत ये है कि अभी कोई आक्टर नही है जो इस लड़के का रोल कर सके. कोई एक्सट्रा भी नही है. प्लीज़ तुम इस रोल को कर लोगे क्या ? विक्की- सर मैं कॅमरामेन हू...मुझे आक्टिंग नही आती है. सोनी- अरे यार तुम्हे कुछ नही करना है....जो करना है वो दोनो करेंगी. तुम्हे बस चुपचाप देखते रहना है. विक्की- पर्र.... सोनी- पर वर कुछ नही...बस तैय्यार हो जाओ. मैं तुम्हारी मनी सर से सिफारिश कर दूँगा. विक्की- ठीक है सर. मैं तैय्यार हू. सोनी- गुड. जाओ उस सोफे पर बैठ जाओ. फिर मानी मनी सिर के कॅबिन वापस आ गया. उसने बशु को सेलिना को लेने भेज दिया और खुद कॅट्लिना और कमू को साथ लेकर अब्ज़र्वेशन रूम चल दिया. क्रमशः....................

b:if cond='data:view.isPost'>                                       

If you want to comment with emoticon, please use the corresponding puncutation under each emoticon below. By commenting on our articles you agree to our Comment Policy
Show EmoticonHide Emoticon

हमारी वेबसाइट पर हर रोज नई कहानियां प्रकाशित की जाती हैं