प्रेग्‍नेंसी के दौरान सेक्‍स: जानिए क्‍या है सच्‍चाई और क्‍या है झूठ ? - xstoryhindi

ज़्यादातर लोगों को लगता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स नहीं करना चाहिए, लेकिन ये सच नही है. पहले तिमाही में बेशक आपको बहुत थकान और मिचली की वजह से पार्टनर से क्लोज़ होने का मन ना करे. लेकिन दूसरे ट्राइमेस्टर (3 से 6 महीने) के दौरान उलटियां अमूमन आनी बंद हा जाती हैं और आप पहले से अच्‍छा महसूस करने लगती हैं. आपकी बॉडी में लव हार्मोन्‍स (ऑक्सीटॉकिन) बढ़ने लगते हैं. दरअसल, प्रेग्नेंसी के दूसरे ट्राइमेस्टर में आपका ब्लड फ्लो और स्राव दोनों बढ़ जाते हैं. इस वजह से लव हार्मोन्स की मात्रा भी बढ़ती जाएगी. इस पूरी प्रक्रिया को Chadwick (चैडविक) भी कहते हैं. इस दौरान वेजाइना में सूजन आने लगती है और लूब्रकन्ट (चिकनाई) भी बढ़ जाता है. ऐसे में पार्टनर के साथ इंटिमेट का होने का मन करने लगता है. हालांकि प्रेग्‍नेंसी में सेक्‍स को लेकर ढेर सारी ऐसी बातें की जाती हैं जिनमें कोई सच्‍चाई नहीं होती है. डॉक्‍टर श‍िल्‍पिता शानथप्‍पा आपको ऐसे ही मिथकों के बारे में बता रही हैं जिन्‍हें आप सच मानते हैं: 



मिथक 1 - प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से भ्रूण (बच्चे) को नुकसान पहुंच सकता है.सच - प्रेग्नेंसी के दौरान वेजाइना खुद ही स्ट्रेच होकर थोड़ी बड़ी हो जाती है. इसी वजह से गर्भाशय के बाहरी तरफ श्लेष्मा (म्यूकस) की भारी लेयर जम जाती है, जिससे सेक्स के दौरान बच्‍चा यूट्रेस के अंदर सुरक्ष‍ित रहता है. 
गोवा या ऊटी ही नहीं, ये हैं भारत के 5 सबसे सस्ते हनीमून डेस्टिनेशन​
मिथक 2 - सेक्‍स के बाद लेबर पेन उठने लगता है
सच - ये सच है कि सीमन में कुछ मात्रा में प्रोस्टाग्लैंडीन मौजूद होता है, जिस वजह से आपको थोड़ा दर्द हो सकता है. डिलीवरी के दौरान भी सिंथेटिक प्रोस्टाग्लैंडीन देते हैं ताकि आपको दर्द हो और बच्चा बाहर आ सके. लेकिन सीमन प्रोस्टाग्लैंडीन की मात्रा बहुत कम होती है, इसीलिए लेबर पेन उठने का सवाल ही नहीं उठता
                                 
मिथक 3 - सेक्स के बाद ब्‍लीडिंग होने का मतलब है मिसकैरेज या डैमेज होना.
सच - गर्भाशय के सेंसिटिव होने की वजह से सेक्स के बाद थोड़ा ब्लड निकल सकता है, जो कि सामान्‍य बात है. लेकिन अगर ब्‍लीडिंग ज़्यादा हो तो तुरंत डॉक्टर से बात करें. 
मिथक 4 - प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से वेजाइनल इंफेक्शन हो सकता है.
सच - अगर आपके पार्टनर को कोई यौन संचारित रोग (सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिसीज़) ना हो तो आपको कोई चिंता करने की ज़रूरत नहीं. ऐसे में बस खुद को भी साफ रखें.

अब तो आप समझ गए होंगे कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से कोई नुकसान नहीं होता, बल्कि ये फायदे होते हैं:-
1. इससे आपकी पेल्विक मसल्स मज़बूत होती हैं.
2. प्रेग्नेंसी में सेक्स से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर रहता है.
3. इससे इम्यूनिटी बूस्ट होती है.
4. नींद अच्छी आती है.
5. और, इससे आप दोनों के बीच प्यार बना रहता है.
इसीलिए प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से ना घबराएं. अगर फिर भी आपका कोई भी सवाल हो तो अपने डॉक्टर से ज़रूर सलाह लें. 

Comments