Sunday

गर्लफ्रेंड को उसकी दूकान में चोदा | xstoryhindi

 गर्लफ्रेंड को उसकी दूकान में चोदा | xstoryhindi 

हैलो दोस्तों मेरा नाम अमन राणा है और मैं जोधपुर का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 20 साल है और मैं अभी बी.ए. कर रहा हूँ | वैसे मेरा मन तो बॉलीवुड में हीरो बनने का है और मैं उसके लिए कुछ न कुछ करता ही रहता हूँ | अभी मैं मॉडलिंग कर रहा हूँ और अगर मैं मॉडल हूँ तो ज़ाहिर है अच्छा तो मैं दिखता ही हूँ |
गर्लफ्रेंड को उसकी दूकान में चोदा | xstoryhindi

 मैं नियमित रूप से जिम भी जाता हूँ इसलिए बॉडी भी अच्छी है तो ले दे के मैं अच्छा ही लगता हूँ | मुझे इस बात का फायदा भी बहुत मिलता है क्योंकि बहुत सी लड़कियां मुझे लाइन देती है और फिर मैं तो हूँ ही ठरकी | मेरी ज़िन्दगी में बहुत सी खूबसूरत घटनाएँ घटी है जिनमें से कुछ मैं ज़िक्र करता हूँ |

एक बार की बात है हमारे जोधपुर के एक मॉल में शो चल रहा था जिसमें मैं रैंप वॉक कर रहा था | जैसे ही मैं आगे पहुंचा तो एक लड़की ने आवाज़ लगाई ओए हीरो और मैं उसकी तरफ देखने लगा | मैंने उसको देखा और वो तो मुझे देख ही रही थी और फिर मैं घूमकर वापस चला गया | 

थोड़ी देर बाद मैं नीचे वाले फ्लोर पर खड़ा था तो मेरी नज़र ऊपर वाले फ्लोर कि तरफ गई तो मैंने देखा कि वही लड़की मुझे देख रही है | मैं भी उसकी तरफ दिलेरी से देखने लगा तो उसने मुझे आँख मार दी | मेरे अन्दर ख़ुशी की लहर दौड़ गई क्योंकि वो लड़की भी कुछ कम माल नहीं थी | तो मैंने अपने दोस्तों से कहा चलो ऊपर चलते है और उनके साथ ऊपर वाले फ्लोर पर चला गया | मैं अपने दोस्तों के साथ खड़ा था और वो मुझसे थोड़ी दूर खड़ी थी | तो मैंने अपने दोस्त से कहा देख क्या मस्त पीस है तो दोस्त ने कहा हाँ भाई लेकिन तेरे हाँथ नहीं आएगी | आप सेक्स स्टोरी xstoryhindi.com/ से पड़े रहे है | 

मैंने कहा चल लगी शर्त अगर मैंने इसको दो दिन में नहीं पटाया तो जो तू बोले | फिर मैं उसकी तरफ देखा और जैसे ही उसने मेरी तरफ देखा तो फिर मैं उसके पास चला गया | मैं उसके पास गया और उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम रुपंशी बताया | दिखने में तो बहुत गज़ब की थी और उसको पास से देखकर तो मैं उसपे और ज्यादा फ़िदा हो गया | मेरे दोस्त मुझे आँखें फाड़ फाड़कर देख रहे थे 

| तो मैंने उससे उसका नंबर लिया और फिर मैंने उसके कंधे पर हाँथ रखा और उसके पास जाकर उसके कान में कहा तुम बहुत अच्छी लग रही हो और फिर मैं जाने लगा | उसने मुझे आवाज़ लगाई और कहा थैंक यू बाय | फिर मैं अपने दोस्तों के पास गया और जिससे मैंने शर्त लगाई थी उसने शर्त कैंसिल कर दी | फिर थोड़ी देर बाद मैंने उसको फ़ोन लगाया और पूछा कि अभी भी वहीँ हो ? तो उसने कहा हाँ | तो मैंने उससे पूछा अच्छा मेरे साथ घुमने चलोगी तो उसने पूछा कहाँ लेकर चलोगे ? तो मैंने बस वहीँ चलेंगे जहाँ पिज़्ज़ा मिलता हो | तो उसने हाँ कर दी और मैं उसे लेने फिर से मॉल गया और उसे लेकर पिज़्ज़ा हट चला गया |

मैंने उसे पिज़्ज़ा खिलाया और खूब सारी बातें की | दोस्तों सच बता रहा हूँ जो भी लड़का आ रहा था वो उसे देख रहा था और जो भी लड़की आ रही थी उसकी नज़रें मेरे ऊपर थी और हम दोनों एक दुसरे को देख रहे थे | हाँ बस मेरी नज़र थोड़ी बहुत यहाँ वहां हो रही थी लेकिन मज़ा बहुत आ रहा था | फिर मैंने उसके हाँथ पे हाँथ रखा और उससे कहा हमें मिले शायद एक दिन भी नहीं हुआ है लेकिन ऐसा लगता है जैसे बहुत पहले से जानता हूँ और मैं तुमसे एक बात कहना चाहता हूँ इसलिए क्योंकि हो सकता है आज के बाद तुम मुझे कभी न मिलो इसलिए मैं अभी तुमसे कहना चाहता हूँ आई लव यू | उसने कहा ये कब हुआ ? तो मैंने जब तुम्हें पहली बार देखा और जैसे ही देखा तो बस देखता ही रह गया | तो उसने कहा कहते जाओ अच्छा लग रहा है तो मैंने कुछ और लाइन चिपकाई | मैंने कहा जब मैं तुम्हें देखा तो ज़िन्दगी जैसे रुक सी गई और भी बहुत कुछ फिर उसने कहा अरे बस बस | फिर उसने नज़रें झुकाई और कहा मेरी भी हाँ है |

फिर हम दोनों उस दिन बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड हो गए और रोज़ का मिलना जुलना घूमने जाना और भी बहुत कुछ होता रहा | अब बारी आती उस चीज़ की जो आप पढ़ना चाहते है चुदाई | तो रुपंशी की एक दूकान थी जिसमें ज्यादातर उसकी मम्मी बैठती थी और जब रुपंशी को कोई काम नहीं होता था तो वो बैठती थी |

 3 मार्च 2017 दोपहर के लगभग 1 बजे मैं उसकी दूकान पर पहुंचा और अन्दर गया | उस दिन वो अकेली दूकान में बैठी थी तो मैं अन्दर गया और जाके उसके पास बैठ गया | उसने पूछा आज यहाँ कैसे आना हुआ जानू ? तो मैंने कहा हमें मिलते जुलते बहुत दिन हो गए है | तो उसने कहा सिर्फ 6 दिन ही तो हुए है तो मैंने कहा अरे जानू 6 दिन भी कम नहीं होते और इतना बोलकर उसके करीब जाने लगा | उसने मुझसे दूर होकर कहा अभी नहीं देख नहीं रहे दूकान खुली है कोई आ आगे तो | तो मैं गया और उसका शटर नीचे कर दिया और फिर जाकर उससे कहा अब कोई और प्रॉब्लम है तो बताओ ? तो उसने कहा तुम मानते क्यों नहीं हो ? तो मैंने कहा क्या मैं अपनी जानू के साथ कुछ नहीं कर सकता ? तो उसने कहा ठीक है और बस जैसे ही उसका ठीक है मेरे कान में गया मैं एकदम से उसे किस करना शुरू दिया | आप सेक्स स्टोरी xstoryhindi.com/ से पड़े रहे है | 

वो आराम से बैठी हुई थी और मैं बस उसके होंठ चूसे पड़ा था वो बिलकुल भी हवस नहीं दिखा रही थी | तो मैंने उसकी चूत पर हाँथ रख दिया और दबा दिया | उसके अन्दर पता नहीं क्या हुआ ? उसने मुझे बहुत जोर से पकड़ लिया और जमके किस करना शुरू कर दिया और मैं बस ये सोच रहा था कि मैंने तो ऐसा कुछ नहीं किया | लेकिन जो हो रहा था अच्छा ही था और मैं भी तो यही चाहता था | अब मैं भी किस करने में उसकी बराबरी करने लगा | फिर मैंने उसके टॉप के अन्दर हाँथ दाल दिया और उसके दूध दबाने लगा और किस करने में तो मैं लगा ही हुआ था | फिर मैंने उसका टॉप ऊपर किया और उसके दूध चूसने लगा और वो उम्म्मम्म उम्मम्मम्म उम्मम्मम्म म्मम्मम्मम उम्म्मम्म ऊफ्फ्फ्फ़ उफफ्फ्फ्फ़ म्मम्मम्म उम्म्मम्म करने लगी | वाह क्या गोरे गोरे दूध थे बिलकुल मलाई जैसे और चूसने में जो मज़ा आ रहा था आहा क्या बताऊँ | फिर मैंने अपनी पैन्ट से अपना लंड बाहर किया और उसने जैसे ही मेरा लंड देखा तो होंठ दबाते हुए छूने लगी |

फिर वो घुटनों पर बैठ गई और मेरा लंड पकड़कर हिलाते हुए चाटने लगी | फिर उसने मेरा लंड मुंह में डाला और चूसने लगी | वो लंड ऐसे चूस रही थी जैसे ब्रश कर रही है पुरे मुंह में यहाँ से वहां | मेरा माल तो उसके मुंह में झड़ गया | उसने माल थूका और कहा बता नहीं सकते थे तो मैंने कहा अच्छा लगता है | फिर मैंने उसकी कुर्सी पर बैठाया और उसका पजामा उतार कर उसकी पैंटी के ऊपर से जीभ फिराने लगा | 

फिर मैंने उसकी पैंटी किनारे की और उसकी चूत चाटने लगा और वो अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आआआ आआआ आह्ह्ह्हह्ह करते हुए अपने दूध दबाने लगी | फिर मैं उसकी चूत चाटते हुए उसके दूध दबाता रहा और वो अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह करते हुए सिसकियाँ लेती रही | अब मेरा खड़ा हो चुका था और मैं चुदाई के लिए तैयार था तो मैं उठा और उसकी पैंटी को किनारे पकड़ के लंड उसकी चूत में दाल दिया |

जैसे ही मैं लंड उसकी चूत में घुसाया उसने मुझे जोर से पकड़ लिया और अपनी तरफ खींचने लगी लेकिन मैं झटके मारने में लगा हुआ था और वो अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आआआ आआआ आह्ह्ह्हह्ह आह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह आआआ हह्ह्ह्ह कर रही थी | फिर मैं थोडा सा रुका तो वो कहने लगी बस हो गया |

loading...
 तो मैंने एक जोर का झटका मारा और जोर जोर से उसे चोदने लगा और वो चिल्लाते हुए अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आआआ आआआ आह्ह्ह्हह्ह आआआ करती रही | थोड़ी देर में मेरा झड़ने को हुआ तो मैंने लंड बाहर किया और उसके मुंह पर पिचकारी मार दी | फिर मैंने अपने कपडे पहने और चला गया | उसके बाद कई बार मैंने उसको कभी दूकान में तो कभी होटल में चोदा और फिर मैंने कोई और पटा ली और उसे छोड़ दिया | लेकिन उसको चोदने में जो मज़ा आता था वो अभी वाली में नहीं आता लेकिन जो भी है ठीक है | तो दोस्तों आशा करता हूँ कहानी पसंद आई होगी | आप सेक्स स्टोरी xstoryhindi.com/ से पड़े रहे है | 

b:if cond='data:view.isPost'>                                                                                                                                                       

If you want to comment with emoticon, please use the corresponding puncutation under each emoticon below. By commenting on our articles you agree to our Comment Policy
Show EmoticonHide Emoticon

हमारी वेबसाइट पर हर रोज नई कहानियां प्रकाशित की जाती हैं